Business

Technology

Women's Day


On this occasion we would like to give readers a chance to pay tribute to the wonderful women in their lives.

It could be your mom, who patiently changed your nappies and comforted you during tough times.

It could be your wife-cum-superwoman, who's getting promotion after promotion. And yet she finds the time to take care of your kids the way only she can.

Or maybe it's your boss, who can juggle 10 tasks simultaneously, and yet come up with the brightest ideas while you are feeling down and out.

Is there a woman like this who inspires you? Pay tribute to her.



The idea of an International Women's Day first arose at the turn of the century, which in the industrialized world was a period of expansion and turbulence, booming population growth and radical ideologies.

On 8 March 1857, women working in clothing and textile factories (called 'garment workers') in New York City, in the United States, staged a protest. They were fighting against inhumane working conditions and low wages. The police attacked the protestors and dispersed them. Two years later, again in March, these women formed their first labour union to try and protect themselves and gain some basic rights in the workplace.

On 8 March 1908, 15,000 women marched through New York City demanding shorter work hours, better pay, voting rights and an end to child labour. They adopted the slogan "Bread and Roses", with bread symbolizing economic security and roses a better quality of life. In May, the Socialist Party of America designated the last Sunday in February for the observance of National Women's Day.

Following the declaration of the Socialist Party of America, the first ever National Woman's Day was celebrated in the United States on 28 February 1909. Women continued to celebrate it on the last Sunday of that month through 1913.


An international conference, held by socialist organizations from around the world, met in Copenhagen, Denmark, in 1910. The conference of the Socialist International proposed a Women's Day which was designed to be international in character. The proposal initially came from Clara Zetkin, a German socialist, who suggested an International Day to mark the strike of garment workers in the United States. The proposal was greeted with unanimous approval by the conference of over 100 women from 17 countries, including the first three women elected to the parliament of Finland. The Day was established to honour the movement for women's rights, including the right to vote (known as 'suffrage'). At that time no fixed date was selected for the observance.
Women's Day Women's Day Reviewed by NARESH THAKUR on Friday, March 07, 2014 Rating: 5

2 comments:

  1. kuch log hindi samjhte h unke liye

    ReplyDelete
  2. महिला दिवस


    इस अवसर पर हम पाठकों को अपने जीवन में अद्भुत महिलाओं को श्रद्धांजलि अर्पित करने का मौका देंगे।


    यह आपकी माँ हो सकती है, जो कठिन समय के दौरान धैर्य से आपके लंगोटों को बदल कर आपको दिलासा दिलाया।


    यह आपकी पत्नी-सह-सुपरवामिनी हो सकती है, जो पदोन्नति के बाद पदोन्नति कर रहा है। और फिर भी उसे अपने बच्चों की देखभाल करने का समय लगता है जिस तरह से वह कर सकती हैं।


    या हो सकता है कि यह आपका मालिक है, जो 10 कार्यों को एक साथ हथकंडा कर सकता है, और अभी तक उभरते विचारों के साथ आते हैं जबकि आप नीचे और बाहर महसूस कर रहे हैं।


    क्या ऐसी कोई महिला है जो आपको प्रेरित करती है? उसे श्रद्धांजलि दीजिए




    एक अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का विचार पहली बार सदी की शुरुआत में उभर आया, जो औद्योगिक क्षेत्र में विस्तार और अशांति, तेजी से जनसंख्या वृद्धि और कट्टरपंथी विचारधाराओं की अवधि थी।


    8 मार्च 1857 को, संयुक्त राज्य अमेरिका में न्यूयॉर्क शहर में कपड़े और कपड़ा कारखानों ('परिधान श्रमिक' कहलाते हुए) में काम करने वाली महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया वे अमानवीय कामकाजी परिस्थितियों और कम मजदूरी के खिलाफ लड़ रहे थे। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर हमला किया और उनको फैला दिया। दो साल बाद, फिर से मार्च में, इन महिलाओं ने स्वयं को बचाने और कार्यस्थल में कुछ बुनियादी अधिकार हासिल करने का प्रयास करने के लिए अपना पहला श्रमिक संघ बनाया।


    8 मार्च 1 9 08 को, 15,000 महिलाओं ने न्यूयॉर्क शहर के माध्यम से छोटा काम के घंटे की मांग की, बेहतर वेतन, मतदान अधिकार और बाल श्रम के अंत की मांग की। उन्होंने नारा "रोटी और गुलाब" को अपनाया, जिसमें आर्थिक सुरक्षा का प्रतीक है और गुलाब का जीवन बेहतर गुणवत्ता है मई में, सोशलिस्ट पार्टी ऑफ अमेरिका ने फरवरी में राष्ट्रीय महिला दिवस के आयोजन के लिए अंतिम रविवार को नामित किया था।


    अमेरिका की सोशलिस्ट पार्टी की घोषणा के बाद, 28 फरवरी 1 9 0 9 को संयुक्त राज्य अमेरिका में पहली बार राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। महिलाएं इसे 1 9 13 के माध्यम से उस महीने के अंतिम रविवार को मनाते रहे।



    विश्वभर के समाजवादी संगठनों द्वारा आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, 1 9 10 में कोपनहेगन, डेनमार्क में मिले। सोशलिस्ट इंटरनेशनल के सम्मेलन ने एक महिला दिवस का प्रस्ताव रखा, जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर के चरित्र में बनाया गया था। यह प्रस्ताव शुरू में एक जर्मन समाजवादी क्लारा ज़ेटकिन से आया था, जिन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका में परिधान श्रमिकों की हड़ताल के निशान के लिए अंतरराष्ट्रीय दिन का सुझाव दिया था। फिनलैंड के संसद के लिए चुने गए पहले तीन महिलाओं सहित, 17 देशों की 100 से अधिक महिलाओं के सम्मेलन से इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से स्वागत किया गया। यह दिन महिलाओं के अधिकारों के आंदोलन को सम्मानित करने के लिए स्थापित किया गया था, जिसमें वोट देने का अधिकार ('मताधिकार' के रूप में जाना जाता है)। उस समय किसी नियत तारीख को पालन के लिए चुना गया था
    ¸.•*"^"*•.¸
    ¸.•*"^"*•.¸
    Mr.somdatt 9680969842

    ReplyDelete

blogger.com