Business

Technology

गूगल क्रोम ऐप स्टोर पर कभी गए क्या?

गूगल क्रोम ऐप स्टोर
पर कभी गए क्या?
जीमेल के बहुत से फीचर्स से आज भी हम अनजान हैं, लेकिन उन्हें जान लें, तो पर्सनल और प्रोफेशनल जिंदगी आसान हो सकती है। इसके लिए गूगल क्रोम ऐप स्टोर पर जाना होगा।
गूगल की मशहूर ईमेल सेवा जीमेल के बिना तो अब हम अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल जिंदगी की कल्पना भी नहीं कर सकते। इसके बावजूद जीमेल के बहुत से फीचर्स से हम आज भी अनजान हैं, जबकि ये फीचर्स हमारी कार्यप्रणाली को आसान बना सकते हैं। ऐसे कई फीचर्स हैं, जिन्हें गूगल क्रोम एेप स्टोर पर जाकर थर्ड पार्टी एक्सटेंशन एडऑन करके अपने जीमेल से जोड़ा जा सकता है। साथ ही कई फीचर्स हमें गूगल लैब से भी मिल सकते हैं, जो कि जीमेल की सेटिंग्स में जाकर आसानी से इस्तेमाल किए जा सकते हैं।
प्री-शेड्यूल मैसेज
अगर दोस्त का बर्थ-डे या कोई जरूरी तारीख भूल जाते हैं या फिर ऑफिस की कोई जानकारी किसी खास समय पर देना चाहते हैं, तो यह फीचर आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। प्री-शेड्यूल मैसेज की मदद से पहले से कम्पोज और फॉरवर्ड की गई मेल निर्धारित तारीख या समय पर डिलिवर हो जाती है। आप हर महीने दस फ्री मैसेज भेज सकते हैं। इससे ज्यादा मैसज भेजने पर आपको पैसे खर्च करने पड़ेंगे। 
स्नूज ई-मेल
अक्सर आपके पास ऐसे मेल आते हैं, जो आपके लिए जरूरी तो होते हैं, पर उस दिन नहीं, जिस दिन वो फॉरवर्ड किए गए हों। ऐसे में उस मेल को याद रखना सबसे बड़ी चुनौती हो जाती है। आपकी इस समस्या का समाधान गूगल क्रोम का एक्सटेंशन स्नूज ई-मेल कर सकता है। इसका इस्तेमाल करके आप इनबॉक्स में नीचे दब चुके मेल को अपनी जरूरत के समय अपनी आंखों के सामने, यानी इनबॉक्स के टॉप में पाएंगे।
आपका मेल पढ़ा गया या नहीं
आप अपने मेल के जवाब का इंतजार करते रहते हैं और सामने से जवाब आता है कि सॉरी मेल देखा ही नहीं। ऐसे में मजबूरन हमें उसकी बात पर भरोसा करना पड़ता है। पर, अब ऐसा नहीं होगा। अब आप गूगल क्रोम के ट्रैकिंग एक्सटेंशंस की मदद से यह जान सकते हैं कि आपका मेल पढ़ा गया या नहीं। इतना ही नहीं, आपको यह भी मालूम चल जाएगा कि आपका मेल कितनी बार खोला गया। मेल खोलते वक्त वो शख्स कहां था और उसने किस डिवाइस पर आपका मेल खोला था।
मेल यूज करें ऑफलाइन
गूगल का एक एेप ‘जीमेल ऑफलाइन’ भी है। इसको अपने पीसी, लैपटॉप या मोबाइल पर डाउनलोड करके आप बिना इंटरनेट कनेक्शन के अपने मेल पढ़ सकते हैं। आप इन ईमेल्स को मैनेज करने के साथ वो मैसेज कंपोज भी कर सकते हैं, जिन्हें आप ऑनलाइन होने के बाद किसी को भेजना चाहते हैं। ट्रायल के तौर पर आप इसे तीस दिनों तक फ्री में इस्तेमाल कर सकते हैं।
एसएमएस पर होगा मेल
दौड़ती-भागती जिंदगी में हर वक्त ऑनलाइन रहना मजबूरी है। कई बार ऐसा कर पाना मुमकिन नहीं होता। ऐसे में आपका कोई जरूरी मेल न छूटने पाए, इसके लिए आप ‘अवे फाइंड’ नाम की एक पेड सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके चलते आपको बार-बार मेल चेक करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। मेल आपके फोन के मैसेज बॉक्स में ब्लिंक करने लगेगा।
एक साथ चेक करें कई मेल
अगर आप व्यस्त हैं और आपके इनबॉक्स में ढेर सारे मेल आ चुके हैं। तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। गूगल लैब में एक आसान तरीका है, जिससे आप कई सारे ईमेल एकांउट एक साथ चेक कर सकते हैं। गूगल लैब का इस्तेमाल जीमेल लॉग-इन करके सेटिंग में जाकर किया जा सकता है।
एप्वाइंटमेंट करें शेड्यूल
गूगल लैब में एक ऐसा फीचर है, जिसकी मदद से आपके इनबॉक्स के पास गूगल कैलेंडर शो होने लगता है, जिसकी मदद से आप अपने सभी एप्वाइंटमेंट को शेड्यूल कर सकते हैं।
मेल आते ही रिप्लाई
अगर आप छुट्टी पर हैं और चाहते हैं कि कोई आपको इस बीच डिस्टर्ब न करे, तो गूगल लैब में आपकी इस समस्या का भी समाधान है। गूगल लैब के फीचर से आप कुछ खास एकाउंट्स से आने वाली मेल्स का जवाब पहले से ही कम्पोज करके रख सकते हैं। उन एकाउंट्स से आपके इनबॉक्स में आने वाली मेल का जवाब अपने आप फॉरवर्ड हो जाएगा।
-दिव्यानी त्रिपाठी
गूगल क्रोम ऐप स्टोर पर कभी गए क्या? गूगल क्रोम ऐप स्टोर पर कभी गए क्या? Reviewed by NARESH THAKUR on Wednesday, September 09, 2015 Rating: 5

No comments:

blogger.com